9771935367, 06432-275733
You May Contribute at Deoghar District Relief Fund | A/C No. 39238814977,  SBI, Deoghar  | IFS Code : SBIN0000064
Click Here To Know About Corona Live Status In Jharkhand  | Click Here To Download LockDown Guidelines  | Click Here To Download COVID - 19 पांच की शक्ति
Migrant Information
Jharkhand E-pass

सूचना भवन, देवघर, जिला जनसम्पर्क कार्यालय, दिनांक -26/04/2020

सूचना भवन, देवघर
=================
जिला जनसम्पर्क कार्यालय
====================
प्रेस विज्ञप्ति संख्या-777
दिनांक -26/04/2020
====================
■ मीडिया संस्थानों के साथ मीडिया कर्मियों को समझनी होगी अपनी जिम्मेवारी:- उपायुक्त....
===================
■ आदेश के उल्लंघन पर होगी कड़ी कार्रवाईः उपायुक्त....
==================

कोरोना वायरस के खतरे को देखते हुए उपायुक्त सह जिला दण्डाधिकारी श्रीमती नैन्सी सहाय द्वारा जानकारी दी गयी कि कोरोना वायरस से लोगों के बचाव हेतु कोरोना वायरस रेगूलेशन, 2020 लागू कर दिया गया है। इसके तहत मीडिया संस्थानों और मीडिया कर्मियों को भी आवश्यक व उचित गाइडलाईन दिया गया है। इसके बावजूद कुछ मीडिया संस्थान और मीडिया कर्मी बेवजह मणग्रंथ खबरों को दिखा रहे हैं। कई बार ऐसा देखने और सुनने को मिलता है कि मीडिया द्वारा दिखाए जा रहीं खबरों की वजह से लोगों में घबराहट के साथ बेबुनियाद अफवाहों से लोग परेशान होते है। ऐसे में सभी मीडिया संस्थानों के साथ मीडिया कर्मियों को निर्देशित किया जाता है कि खबर चलाने से पहले उस घटनाक्रम पर आधिकारिक बयान अवश्य लें।

ज्ञात हो सभी की सुरक्षा के उद्देश्य से Jharkhand Sted Epidemic Disease (COVID&19) Regulations 2020 पारित किया गया है। ऐसे में आदेश के तहत नियमों का पालन व सहयोग करें....

1. अफवाहों पर लगाम लगाने के उद्देश्य से किसी भी संस्थान कोई भी व्यक्ति या संस्था COVID-19 से संबंधित मामलों को बिना अनुमति के प्रचारित या प्रसारित नहीं करने का आदेश जारी किया गया है।

2. इन नियमों के प्रावधानों में से कोई भी उल्लंघन करने वाले को नियंत्रित करता है या आदेश की अवहेलना करता है या इन नियमों के तहत किसी भी प्राधिकारी पर लगाए गए कार्यों, कर्तव्यों और जिम्मेदारियों के प्रदर्शन को बाधित करता है, तो भारतीय दंड संहिता, 1860 (45) की धारा 188 के तहत अपराध माना जाएगा।

3. इस रेगुलेशन के मुताबिक कोई भी संस्थान, संस्था, मीडिया (प्रिंट व इलेक्ट्रॉनिक) और सोशल मीडिया पर कोरोना वायरस से संबंधित तथ्यहीन या गलत मामला या अन्य कोई मामला बिना अनुमति के प्रकाशित या प्रसारित नहीं किया जायेगा, ताकि लोगों के बीच भ्रम या फिर अफवाह नहीं फैले।

==================
#VisitDeoghar
#CleanDeogharGreenDeoghar
==================
#TeamPRD(Deoghar)


सूचना भवन, देवघर
=================
जिला जनसम्पर्क कार्यालय
====================
प्रेस विज्ञप्ति संख्या-778
दिनांक -26/04/2020
====================
■अक्षय तृतीया के अवसर पर आज मुख्यमंत्री दाल भात केंद्र के माध्यम से बलसरा में लोगों के बीच किया गया खीर, पूड़ी का वितरण....
===================
■ पर्यावरण के दृष्टिकोण से दीदी किचन का संचालन करने वाली महिलाओं के द्वारा पलाश के पत्ते से बनाया जा रहा है हस्तनिर्मित पत्तल: उपायुक्त....
===================
■ दीदी किचन के माध्यम से असहाय व गरीब लोगों को निःशुल्क भोजन मुहैया कराने में जुटी हुई हैं सखी मंडल की महिलाएं:- उपायुक्त....
===================

उपायुक्त सह जिला दंडाधिकारी श्रीमती नैंसी सहाय द्वारा जानकारी दी गई कि कोरोना वायरस नामक संकट की इस घड़ी में समाज के बेसहारा, जरूरतमंद, दिव्यांग एवं अति गरीब लोगों को हर संभव सुविधा मुहैया कराने हेतु जिला प्रशासन द्वारा हर संभव प्रयास किये जा रहे हैं। इसी कड़ी में आज अक्षय तृतीया के अवसर पर मोहनपुर प्रखंड के सरासनी पंचायत स्थित बलसरा गांव में संचालित मुख्यमंत्री दाल भात केंद्र के माध्यम से लोगों के बीच खीर, पूड़ी, सब्जी आदि का वितरण किया गया, जिससे यहां रहने वाले अधिकांश गरीब तबके के लोग लाभान्वित हुए और उनके चेहरों पर खुशी की झलक देखी गयी।

इस संदर्भ में उपायुक्त ने कहा कि जैसा कि हम सभी जानते हैं कि वर्तमान में लॉक डाउन के वजह से सबसे ज्यादा मजदूर एवं गरीब तबके के लोग प्रभावित हो रहे हैं, ऐसे में इन लोगों के चेहरे पर मुस्कान लाने हेतु अक्षय तृतीया के अवसर पर हमारे द्वारा यह छोटी सी पहल की गयी, ताकि लोग लाभान्वित हो सकें। उन्होंने आगे कहा कि समय-समय पर आगे भी दाल भात केंद्रो के माध्यम से इस प्रकार की व्यवस्था की जाएगी और हमारा प्रयास होगा कि इससे अधिक से अधिक लोग लाभान्वित हों।

तत्पश्चात उपायुक्त ने कहा कि सभी को भरपेट भोजन उपलब्ध कराना जिला प्रशासन की प्राथमिकता है। हमारा यह प्रयास है कि जिले में एक भी व्यक्ति भूखा न सोये। इस हेतु झारखण्ड स्टेट लाइवलीहुड प्रमोशन सोसाइटी के माध्यम से सभी पंचायतो में निःशुल्क दीदी किचन का भी संचालन किया जा रहा है एवं इन केन्द्रों के माध्यम से प्रतिदिन हज़ारों अनाथ, बेसहारा, दिव्यांग, वृद्धजन, गरीब एवं राहगीरों को निःशुल्क भोजन उपलब्ध कराया जा रहा है।

इसी कड़ी में देवघर जिला के पालोजोरी प्रखंड के मसानजोर पंचायत में दीदी किचन का संचालन करने वाली राधा कृष्ण आजीविका सखी मंडल की महिलाओं द्वारा पर्यावरण के दृष्टिकोण से अनूठा पहल करते हुए गांव के असहाय एवं जरूरतमंदों को खाना परोसने के लिए पलाश के पत्तों से बने पत्तल का उपयोग किया जा रहा है एवं इस हेतु वे स्वयं अपने गाँव में पलाश के पत्ते संग्रहित कर पत्तल बना रही हैं, ताकि प्लास्टिक के पत्तल की जगह पत्तियों से घर पर ही बनाए गए पत्तल का उपयोग करने से एक तरफ जहां पैसे बचे, वहीं दूसरी ओर इनका आसानी से निष्पादन भी हो जाय। इससे कोरोना वायरस के संक्रमण से तो बचाव होगा हीं साथ हीं प्लास्टिक के पत्तलों से गांव में होने वाले प्रदूषण में भी कमी आएगी।

इसके अलावे उपायुक्त श्रीमती नैंसी सहाय द्वारा जानकारी दी गई कि इन सभी केंद्रों पर भोजन वितरण के दौरान स्वच्छता व सोशल डिस्टेंसिंग का सख्ती से अनुपालन किया जा रहा है एवं भोजन वितरण के दौरान लोगों के बीच कम से कम 3 फीट की दूरी निर्धारित कर उन्हें भोजन कराया जा रहा है, ताकि वायरस के संक्रमण को फैलने से रोका जा सके।

==================
#VisitDeoghar
#CleanDeogharGreenDeoghar
==================
#TeamPRD(Deoghar)


सूचना भवन, देवघर
=================
जिला जनसम्पर्क कार्यालय
====================
प्रेस विज्ञप्ति संख्या-779
दिनांक -26/04/2020
====================
■ सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कर खेती-बाड़ी कर रही हैं ग्रामीण क्षेत्र की महिलायें....
==================
■ सखी मंडल की सक्रिय महिलाओं द्वारा ग्रामीण क्षेत्र की महिलाओं को सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने व कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव की दी जा रही है जानकारी....
==================

वर्तमान में कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव एवं इसके रोकथाम हेतु समाजिक दूरी बनाये रखने को लेकर जिला प्रशासन द्वारा लगातार कार्य किया जा रहे है। साथ हीं लोगों को जागरूक किया जा रहा है कि वे घर में हीं रहकर स्वयं को व अपने परिवार को सुरक्षित रखें एवं अत्यंत आवश्यक कार्य होने पर हीं अपने घरों से बाहर निकलें व सोशल डिस्टेंस का पालन करते हुए कार्य करें।

इसी कड़ी में देखा जा रहा है कि ग्रामीण क्षेत्र की महिलायें जागरूक हो कर अपने स्वास्थ्य का समुचित ध्यान रख रही हैं एवं सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कर खेती-बाड़ी कर रही हैं। सिर्फ इतना हीं नहीं उनके द्वारा कृषि संबंधी कार्यों को करते समय नाक-मुँह को ढँकने हेतु मास्क, रुमाल अथवा साफ सूती कपड़े का प्रयोग किया जा रहा है एवं थोड़े-थोड़े समय पर हाथों को साबुन और पानी से धोया जा रहा है। इसके अलावा पानी भरने हेतु उनके द्वारा चापाकल के समीप गोल घेरा का निर्माण किया गया है, ताकि पानी भरते समय वे एक दूसरे से समुचित दूरी पर खड़ा रहकर सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कर सकें।

सिर्फ इतना हीं नहीं ये सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कर रोजमर्रा के अन्य कार्य भी कर रही हैं एवं दूसरों को भी ऐसा करने हेतु प्रेरित कर रही है, ताकि लोग सजग व सतर्क रहते हुए कोरोना वायरस के संक्रमण से अपना व अपने परिवार का बचाव कर सकें।

ज्ञातव्य है कि वर्तमान में कोरोना वायरस के प्रकोप को देखते हुए इसके संक्रमण व फैलाव की संभावना से इन्कार नहीं किया जा सकता है। ऐसे में कोरोना वायरस के फैलते संक्रमण से बचाव एवं रोकथाम हेतु लॉक डाउन के बाबजूद लोगों को स्वयं से सतर्क व सजग रहने की आवश्यकता है, परंतु जीवन निर्वाह के लिए आवश्यक रोजमर्रा के दैनिक कार्यों हेतु भी कभी-कभी लोगों को घर से बाहर निकलना पड़ रहा है, खासकर अभी खेती-बाड़ी का समय होने के कारण ग्रामीण क्षेत्रों में लोगों को घर से बाहर निकल कर खेतों में जाकर कृषि संबंधी आवश्यक कार्य करने पड़ रहे हैं। ऐसे में लोगों के एक-दूसरे के सम्पर्क में आने की संभावना बन जाती है। परन्तु स्वास्थ्य सुरक्षा के दृष्टिकोण से ग्रामीणों द्वारा एक- दूसरे के बीच सामाजिक दूरी बनाते हुए खेती-बाड़ी व रोजमर्रा के अन्य कार्य किये जा रहे हैं, जो कि वास्तव में सराहनीय है। सिर्फ इतना हीं इन महिलाओं द्वारा स्वयं तो विभिन्न स्वास्थ्य सुरक्षा उपाय अपनाते हुए सोशल डिस्टेंस का पालन किया जा रहा हीं है साथ हीं दूसरे को भी ऐसा करने हेतु प्रेरित किया जा रहा है।

==================
#VisitDeoghar
#CleanDeogharGreenDeoghar
==================
#TeamPRD(Deoghar)