9771935367, 06432-275733
You May Contribute at Deoghar District Relief Fund | A/C No. 39238814977,  SBI, Deoghar  | IFS Code : SBIN0000064
Click Here To Know About Corona Live Status In Jharkhand  | Click Here To Download LockDown Guidelines  | Click Here To Download COVID - 19 पांच की शक्ति
Migrant Information
Jharkhand E-pass

सूचना भवन, देवघर, जिला जनसम्पर्क कार्यालय, दिनांक -16/05/2020

सूचना भवन, देवघर
=================
जिला जनसम्पर्क कार्यालय
====================
प्रेस विज्ञप्ति संख्या-898
दिनांक -16/05/2020
====================
■ सड़को पर पैदल चलने वाले श्रमिकों को अब जिला प्रशासन पहुंचाएगा उनके गंतव्य स्थान तकः- उपायुक्त....
==================
■ प्रवासी श्रमिकों से जुड़ी सूचना हेतु जारी नंबर पर दे जानकारी:- उपायुक्त....
==================

उपायुक्त सह जिला दण्डाधिकारी श्रीमती नैन्सी सहाय द्वारा जानकारी दी गयी कि लाॅक डाउन के दरम्यान सड़को पर पैदल चल रहे प्रवासी श्रमिकों की सुविधा हेतु लगातार बेहतर कदम उठाये जा रहे हैं। इसी कड़ी में अब ऐसे श्रमिक बंधुओं को उनके गृह जिलों या अन्य राज्यों तक पहुंचाने की व्यवस्था जिला प्रशासन द्वारा की गयी है। इसको लेकर संबंधित अधिकारियों को भी निदेशित किया गया है कि ऐसे प्रवासी श्रमिकों को चिन्हित कर उन्हें उनके गंतव्य स्थान तक पहुंचाया जाय, ताकि प्रवासी श्रमिकों या उनके परिजनों को किसी प्रकार की समस्या का सामना न करना पड़े। उन्होंने आगे कहा कि सर्वप्रथम चिन्हित किये गए इन श्रमिकों की थर्मल स्कैनर के माध्यम से स्वास्थ्य जांच की जायेगी। तत्पश्चात स्वस्थ्य पाये जाने पर उन्हें भोजन, पानी आदि मुहैया कराते हुए सेनेटाइजड बस के माध्यम से उनके गंतव्य स्थान तक भेजा जायेगा। इस हेतु आवश्यक है कि सभी लोग पूरी तत्परता के साथ संवेदनशील होकर कार्य करे, ताकि हम पैदल यात्रा कर रहे श्रमिकों की पहचान कर उन्हें हर संभव सुविधा मुहैया करा सके।

इसको लेकर आप सभी जिलावासियों से अपील है कि सड़को पर दिखने वाले प्रवासी श्रमिकों की जानकारी संबंधित प्रखण्ड स्तरीय हेल्प लाइन नंबर पर दे, ताकि त्वरित कार्य करते हुए उनकी मदद की जा सके। सभी प्रखण्डों हेतु अलग-अलग सम्पर्क संख्या जारी किये गये हैं, ताकि प्रखण्डस्तरीय लोगों को किसी प्रकार की असुविधा का सामना न करना पड़े।

इसके अलावा जिला स्तर पर सूचना के लिए 9771935367, 8580271240 एवं 06432-275733 पर काॅल कर जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

■ प्रखण्ड स्तर के नियंत्रण कक्ष के निम्नलिखित सम्पर्क नंबर....
1. प्रखण्ड नियंत्रण कक्ष, देवघर 7903765968/7991122354
2. प्रखण्ड नियंत्रण कक्ष, देवीपुर 9771554586/9473232803
3. प्रखण्ड नियंत्रण कक्ष, सारठ 9199872725/7070707376
4. प्रखण्ड नियंत्रण कक्ष, मधुपुर 9576508631
5. प्रखण्ड नियंत्रण कक्ष, करौं 9631763083/9973774667
6. प्रखण्ड नियंत्रण कक्ष, मोहनपुर 9431396517
7. प्रखण्ड नियंत्रण कक्ष, पालोजोरी 7903759447/9931572877
8. प्रखण्ड नियंत्रण कक्ष, सोनारायठाढ़ी 9798910375/9955443467
9. प्रखण्ड नियंत्रण कक्ष, मारगोमुण्डा 7004823611
10. प्रखण्ड नियंत्रण कक्ष, सारवां 6203895804 हैं।

==================
#StayHomeStaySafe
#CleanDeogharGreenDeoghar
==================
#TeamPRD(Deoghar)


सूचना भवन, देवघर
=================
जिला जनसम्पर्क कार्यालय
====================
प्रेस विज्ञप्ति संख्या-897
दिनांक -16/05/2020
====================
■ पढ़ाई के साथ कोरोना के प्रति बच्चों व अभिभावकों को करें जागरूकः उपायुक्त....
====================
■ ऑनलाइन पढ़ाई के साथ बच्चों के मानसिक विकास पर दे विशेष ध्यानः उपायुक्त....
====================

उपायुक्त सह जिला दण्डाधिकारी श्रीमती नैन्सी सहाय ने वीडियो काॅन्फ्रेंसिंग के माध्यम से शिक्षा विभाग के द्वारा किये जा रहे कार्यों के साथ ऑनलाइन क्लासेस व बच्चों को मिलने वाली विभिन्न सुविधाओं की विस्तृत समीक्षा कर संबंधित अधिकारियों को आवश्यक व उचित दिशा-निर्देश दिया।

■ ऑनलाइन क्लासेस के साथ व्हाट्स एप ग्रुप के माध्यम से बच्चों व अभिभावकों को जोड़ेः उपायुक्त....
वीडियो काॅन्फ्रेंसिंग के दौरान उपायुक्त श्रीमती नैन्सी सहाय ने संबंधित अधिकारियों को निदेशित किया कि ऑनलाइन क्लाशेस के साथ व्हाट्सएप ग्रुप के माध्यम से बच्चों को पढ़ाई से जुड़े दस्तावेज समय पर मिलते रहे, इसका विशेष ध्यान रखें। साथ ही उन्होंने बताया कि टीचर्स और स्टूडेंट्स के लिए व्हाट्सएप पर कॉमन ग्रुप बनाए जाय और नए सत्र के लिए क्लासेस व्हाट्सएप के जरिए ही आयोजित की जाय। इसके अलावे जिले में हर एक ब्लॉक के लिए व्हाट्सएप ग्रुप बनाते हुए इसे पूर्ण रूप से इसे एक्टिव रखें। साथ ही छात्र-छात्राओं के माता-पिता भी व्हाट्सएप ग्रुप से जोड़े, ताकि बच्चों के गतिविधियों से उन्हें लगातार अवगत कराया जाता रहे।

■ ऑनलाइन क्लासेस के साथ असाइनमेंट और एक्सट्रा एक्टिविटी पर दे ध्यानः उपायुक्त....
समीक्षा के क्रम में उपायुक्त श्रीमती नैन्सी सहाय ने संबंधित अधिकारियों को निदेशित करते हुए कहा कि बच्चों की पढ़ाई के साथ एक्सट्रा एक्टिविटी जैसे पेंटिंग, क्वीज प्रतियोगिता, प्रेरणादायक क्रियाकलापों से जोड़े, ताकि पढ़ाई के साथ बच्चों का इन क्रियाकलापों में भी मन लगा रहे। उन्होंने कहा कि सभी विषय अध्यापक व्हाट्सएप ग्रुप बनाकर उसमें छात्र-छात्राओं को सम्मिलित करें और रोजाना विषय से संबंधित होमवर्क दे, ताकि बच्चों के पढ़ाई में किसी प्रकार का गैप न रहे। इसके अलावे जिला स्तर पर वैसे प्रखण्डों को चिन्हित करें, जहां ऑनलाइन क्लासेस या बच्चों की उपस्थिति कम है।

इस दौरान उपायुक्त सह जिला दण्डाधिकारी श्रीमती नैन्सी सहाय द्वारा जानकारी दी गयी कि लाॅक डाउन के दरम्यान स्कूल व कॉलेजों के बच्चों की सुविधा हेतु स्कूली शिक्षा एवं साक्षरता विभाग के द्वारा प्रायोजित झारखण्ड Digi-SATH के माध्यम से विभिन्न ऑनलाइन क्लाशेस का प्रचार-प्रसार करें। इसी कड़ी में छात्रों के साथ अविभावकों को भी जागरूक करें, ताकि ऑनलाइन क्लासेस के प्लेटफाॅर्म का उपयोग करते हुए इसका फायदा ज्यादा से ज्यादा विद्यार्थी बेहतर तरीके से उठा सके। शिक्षक द्वारा अभिभावकों का समूह तैयार किया गया है। इस समूह में प्रत्येक दिन कक्षावार एवं विषयवार शिक्षण सामग्री उपलब्ध करायी जा रही है।

■ ई-लर्निंग में पढ़ाई के साथ अन्य क्रियाकलापों को भी जोड़ेः उपायुक्त....
वीडियो काॅन्फ्रेंसिंग के दौरान उपायुक्त श्रीमती नैन्सी सहाय ने संबंधित अधिकारियों को निदेशित किया कि वर्तमान में जरूरतों के हिसाब से डिजिटल लर्निंग को प्रोत्साहित करने की जरूरत है, ताकि छात्र-छात्राएं मौजूदा डिजिटल/ई-लर्निंंग प्लेटफाॅर्म का इस्तेमाल कर अपनी पढ़ाई-लिखाई जारी रख सके। इसके अलावे सीसीई को आधार बनाते हुए रचनात्मक मूल्याकंन एवं अधिगम प्रक्रिया के आकलन हेतु डिजिटल काॅपी सत्यापन की रूप-रेख को पूरे जिले में लागू करें। साथ ही इंटरमीडिएट कक्षा के बच्चों को अकारदमिक अनुसम्र्थन हेतु जूम काॅल या व्हाट्स एप वीडियो काॅल के माध्यम से प्रत्यक्ष सहयोग उपलब्ध कराया जाय। सबसे महत्वपूर्ण गुगल फाॅर्म एवं कार्यपत्रक के माध्यम से बच्चों का आकलन क्वीज के माध्यम से किया जाय। पढ़ाई-लिखाई में कमजोर बच्चों पर विशेष ध्यान देते हुए शिक्षक व्यक्तिगत रूप से काॅल एवं वीडियो काॅल के माध्यम से अतिरिक्त अनुसमर्थन प्रदान करते हुए उनका काउंसिलिंग करें।

■ बच्चो के साथ अभिभावकों को ऑनलाइन जोड़ने की व्यवस्था:- उपायुक्त....
इस दौरान उनके द्वारा बतलाया गया कि देवघर जिला अंतर्गत बच्चों के पढ़ाई को सुचारू रूप से संचालित करने हेतु जिला प्रशासन द्वारा यह पहल की गयी है। इसके तहत अभिभावक अपने घरों से वीडियो काॅन्फ्रेंसिंग के माध्यम से सीधे जुड़ सकते है एवं अभिभावकों को Digi-SATH के बारे में अधिक से अधिक जागरूक करने का प्रयास किया जा रहा है, ताकि वे इसका उपयोग अपने बच्चों की पढ़ाई हेतु करें। उनके द्वारा आगे जानकारी दी गयी कि Digi-SATH पूर्णतः डिजिटल आधारित प्लेटफॅार्म है एवं उपयोग हेतु यह बहुत हीं आसान एवं लाभदायक है एवं सबसे अच्छी बात यह है कि Digi-SATH के माध्यम से पढ़ाई हेतु किसी भी प्रकार की शुल्क अदा करने की आवश्यकता नहीं है एवं बच्चों के शिक्षा के लिए यह काफी उपयोगी सिद्ध होगी। उनके द्वारा आगे कहा गया कि इसके माध्यम से कोरोना से बचाव व रोकथाम के उपायो संबंधी जागरूकता फैलाने का भी प्रयास किया जायेगा।

इस दौरान उपरोक्त के अलावे अपने अपने कार्यालय से जिला शिक्षा पदाधिकारी, जिला शिक्षा अधीक्षक, राज्य प्रतिनिधि सुजित कुमार, सभी प्रखण्ड शिक्षा प्रसार पदाधिकारी एवं संबंधित अधिकारी आदि वीडियो काॅन्फ्रेंसिंग के माध्यम से उपस्थित थें।

==================
#StayHomeStaySafe
#CleanDeogharGreenDeoghar
==================
#TeamPRD(Deoghar)


सूचना भवन, देवघर
=================
जिला जनसम्पर्क कार्यालय
====================
प्रेस विज्ञप्ति संख्या-899
दिनांक -16/05/2020
====================
■ गरीब, मजदूर तबके एवं लॉक डाउन से प्रभावित दूरदराज क्षेत्र के व्यक्तियों की सुविधा हेतु फ़ूड ग्रेन बैंक:- उपायुक्त....
==================
■ आप सभी का सहयोग आपेक्षित:- उपायुक्त....
==================
उपायुक्त सह जिला दंडाधिकारी श्रीमती नैंसी सहाय द्वारा जानकारी दी गयी कि कोराना वायरस से बचाव, रोकथाम एवं इसके संभावित प्रसार को रोकने के उद्देश्य से जिला प्रशासन व पुलिस प्रशासन द्वारा लगातार आवश्यक कार्य किया जा रहा है। ऐसे में गरीब, मजदूर तबके एवं लॉक डाउन से प्रभावित दूरदराज क्षेत्र के व्यक्तियों को आवश्यक सुविधा पहुँचाने हेतु लगातार प्रयासरत है। इसी परिप्रेक्ष्य में देखा जा रहा है कि अनेक समाजसेवी एवं दातागण स्वेच्छा से खाद्य सामग्रियों यथा गेहूं चावल एवं अन्य राशन सामग्री सहयोग स्वरूप दान देकर गरीब लोगों की मदद कर रहे है, जो कि सराहनीय है। साथ हीं उपायुक्त द्वारा कहा गया कि विपदा की इस घड़ी में लोगों की मदद हेतु फूड ग्रेन बैंक में दान देने वाले सभी समाजसेवियों का आभार। आप सभी के सहयोग से फूड ग्रेन बैंक में पर्याप्त मात्रा में अनाज संग्रहित हो रहा है एवं उससे गरीब तबके के लोगों की हरसंभव सहयोग की जा रही है। आशा है कि आगे भी इसी प्रकार आप सभी के द्वारा गरीब तबके के लोगों की मदद हेतु सहयोग की जाएगी, ताकि परस्पर सहयोग से कोरोना नामक इस महामारी पर जीत हासिल की जा सके।

ज्ञातव्य है कि इस प्रकार के दान दिए गए सामग्रियों के संग्रह हेतु देवघर जिला अंतर्गत अनुमंडल स्तर पर दो फूड ग्रेन बैंक की स्थापना की गई हैं, जहाँ इच्छुक दाता खाद्यान्न सामग्री/राशन सामग्री का दान पूर्वाहन 7:00 बजे से 1:00 अपराहन की अवधि में देकर अपना सहयोग कर सकते हैं। जिला प्रशासन द्वारा इन सामग्रियों को संग्रहित कर उससे जरूरतमंदों की मदद की जाती है।

इन फूड ग्रेन बैंकों के नाम इस प्रकार हैं-
■ देवघर अनुमंडल- इन्डोर बैडमिंटन स्टेडियम देवघर।
■ मधुपुर अनुमंडल- अग्रसेन भवन मधुपुर।

==================
#StayHomeStaySafe
#CleanDeogharGreenDeoghar
==================
#TeamPRD(Deoghar)


सूचना भवन, देवघर
=================
जिला जनसम्पर्क कार्यालय
====================
प्रेस विज्ञप्ति संख्या-900
दिनांक -16/05/2020
====================
■ क्वारंटाइन सेंटरों में पोष्टिक भोजन के साथ साफ-सफाई और पेयजल पर दे विशेष ध्यानः- उपायुक्त....
==================
■ सभी के स्वास्थ्य सुरक्षा का ख्याल रखना जिला प्रशासन की प्राथमिकता- उपायुक्त....
==================
■ बाहर से आने वाले श्रमिकों के साथ क्वारंटाइन सेंटरों में रह रहे बच्चों व महिलाओं की सुविधा का रखे पूर्ण ख्यालः-उपायुक्त.....
==================

कोरोना संक्रमण के दौरान क्वारंटाइन सेंटर को और भी दुरूस्त करने के उद्देश्य से उपायुक्त सह जिला दंडाधिकारी श्रीमती नैंसी सहाय की अध्यक्षता में सभी प्रखण्डों के वरीय प्रभारी पदाधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक का आयोजन समाहरणालय सभागार में किया गया।

इस दौरान उपायुक्त ने संबंधित अधिकारियों को निदेशित करते हुए कहा कि कोरोना वायरस से बचाव हेतु संदिग्ध व्यक्तियों के लिए उपचार, जांच, बेड, रख-रखाव व अन्य मूलभूत सुविधाओं की उपलब्धता सहित स्वच्छता व्यवस्था पर विशेष ध्यान दे, ताकि आवश्यकता होने पर किसी प्रकार की समस्या का सामना न करना पड़े। साथ हीं सभी क्वारंटाइन सेंटरों में रह रहे लोगों के स्वास्थ्य सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए पोष्टिक भोजन व पेयजल व्यवस्था के बेहतर इंतजाम रखें।

■ क्वारंटाइन सेंटर में गड़बड़ी पाये जाने पर होगी कार्रवाईः उपायुक्त....
समीक्षा के क्रम में उपायुक्त ने कहा कि क्वारंटाइन सेंटर में सादा भोजन हो परंतु गुणवत्तापूर्ण व पौष्टिक भोजन होना चाहिए। साथ ही सेंटरों में रहने वाले सभी लोगों को समय पर भोजन व अन्य सुविधा मिले, इसका विशेष ख्याल रखें। इसमें कोई भी लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। इसके अलावे क्वारंटाइन सेंटर की नियमित साफ-सफाई के साथ वहां रह रहे लोग सामाजिक दूरी का पालन करें, इसे हर हाल में सुनिश्चित करें। सबसे महत्वपूर्ण इन सेंटरों में रहने वाले महिलाओं विशेषकर बच्चों का विशेष ख्याल रखें, ताकि उन्हें किसी प्रकार की कठिनाई न हो।

■ लोगों को कोरोनो के प्रति करे जागरूक-उपायुक्त....
समीक्षा के क्रम में उपायुक्त श्रीमती नैंसी सहाय ने संबंधित अधिकारियों को निर्देशित कि वे अपने-अपने क्षेत्रों में रहने वाले लोगों को कोरोना के दुष्प्रभाव एवं इससे बचाव के प्रति जागरूक करें। इसके अलावा उन क्षेत्रों के अस्पताल एवं स्वास्थ्य केंद्रों में आने वाले मरीजों को भी कोरोना से संबंधित समूचित जानकारी देकर उन्हें जागरूक किया जाए, ताकि अधिक से अधिक लोग जागरूक होकर सतर्क हो सके।

बैठक के दौरान उपरोक्त के अलावे उप विकास आयुक्त श्री शैलेन्द्र कुमार लाल, अपर समाहर्ता श्री चंद्र शेखर भूषण सिंह, अनुमंडल पदाधिकारी, देवघर श्री विशाल सागर, अनुमंडल पदाधिकारी, मधुपुर श्री योगेन्द्र प्रसाद, प्रशिक्षु आई.ए. एस श्री रवि आनंद, डीआरडीए निदेशक श्रीमती नयनतारा केरकेट्टा, भू-अर्जन पदाधिकारी श्री उमाशंकर प्रसाद सिंह, जिला परिवहन पदाधिकारी श्री फिलबियूस बारला, स्थापना उप समाहर्ता श्री परमेश्वर मुण्डा, जिला पंचायती राज पदाधिकारी श्री रणवीर कुमार सिंह, जिला आपूर्ति पदाधिकारी श्री विशाल दीप खलखो एवं संबंधित अधिकारी आदि उपस्थित थे।

==================
#StayHomeStaySafe
#CleanDeogharGreenDeoghar
==================
#TeamPRD(Deoghar)


सूचना भवन, देवघर
=================
जिला जनसम्पर्क कार्यालय
====================
प्रेस विज्ञप्ति संख्या-902
दिनांक -16/05/2020
====================
■ झारखंड और बिहार के प्रवासी श्रमिकों को जसीडीह स्टेशन लेकर पहुंची आज सातवीं स्पेशल ट्रेन....
==================
■ थर्मल सकैनिंग और स्वास्थ्य जांच के पश्चात फूड पैकेट, पेयजल देकर श्रमिकों का किया गया स्वागत....
==================
■ मैल्लूर, कर्नाटक से स्पेशल ट्रेन पर चढ़ देवघर पहुंचे 1313 मजदूर....
==================

केंद्र और राज्य सरकार के पहल के पश्चात लॉक डाउन के वजह से बाहर फंसे झारखण्ड के विभिन्न जिलों के 1313 श्रमिक बंधु आज स्पेशल ट्रैन के माध्यम से मैल्लूर के कर्नाटक से जसीडीह स्टेशन पहुंचे। इस दौरान अनुमंडल पदाधिकारी-सह-अनुमंडल दण्डाधिकारी श्री विशाल सागर एवं वरीय अधिकारियों के द्वारा सभी श्रमिकों का अभिनंदन किया गया एवं उनके सकुशल घर वापसी हेतु ढेरों शुभकामनाएं दी गयी। सर्वप्रथम यहां आने वाले सभी श्रमिकों को ट्रैन से सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए उतारा गया एवं स्टेशन परिसर में स्वास्थ्य परीक्षण हेतु बने काउंटर में उनका थर्मल स्कैनिंग व स्वास्थ्य जांच संबंधी अन्य सभी प्रक्रिया पूरी की गई। इसके बाद उन्हें उनके गंतव्य तक जाने हेतु अलग-अलग जिलों की बस में बैठाकर रवाना किया गया।

ज्ञात हो कि भागलपुर के 1, बोकारो के 100, चाइबासा के 31, चतरा के 32, चम्पारण के 1, देवघर के 84, धनबाद के 17, दुमका के 94, दुर्गापुर के 1, पूर्वी सिंहभूम के 10, गढ़वा के 174, गिद्धोर के 3, गिरिडीह के 115, गोड्डा के 97, गुमला के 5, हजारीबाग के 20, जामताड़ा के 21, जमशेदपरु के 1, खरसवां के 3, खूंटी के 7, कोडरमा के 29, लातेहार के 13, लोहरदगा के 26, पाकुड़ के 6, पलामू के 80, प0 सिंहभूम के 152, रंाची के 101, रामगढ़ के 12, साहेबगंज के 10, सरायकेला के 47, सिमडेगा के 2, अन्य 18 प्रवासी मजदूर शामिल हैं।

■ प्लेटफॉर्म पर जिला तथा रेल पुलिस के पदाधिकारियों के साथ स्वास्थ्य टीम को किया गया था तैनात....
मैल्लूर कर्नाटक से बड़ी संख्या में आने वाले श्रमिकों को लेकर जसीडीह स्टेशन के प्लेटफार्म पर द्विस्तरीय सुरक्षा के प्रबंध किए गए थे। इसके अलावे आने वाले लोगों के स्वास्थ्य जांच व थर्मल स्कैनिंग हेतु स्वास्थ्य टीम की भी तैनाती की गयी थी। आने वाले सभी श्रमिक बंधुओं के बीच नास्ता, पानी, का वितरण करते हुए सभी को 14 दिनों तक होम क्वारंटाइन का अक्षरशः पालन करने का निर्देश दिया गया। साथ हीं सभी मजदूरों को उनके गंतव्य स्थान तक भेजने हेतु प्रयोग किये जाने वाले बसों को पूर्णतः सेनेटाइज्ड कर सोशल डिस्टेंसिंग का ध्यान रखा गया है।

■ सुरक्षा के दृष्टिकोण से रेलवे स्टेशन पर एहतियातन उठाये गए सभी कदम....
श्रमिकों के आगमन को लेकर जसीडीह रेलवे स्टेशन परिसर को पूर्ण रूप से सैनेटाइजड किया गया था एवं सोशल डिस्टेंसिंग के अनुपालन हेतु जगह-जगह बेरिकेड्स कर गोल घेरा का निर्माण कराया गया था। इसके अलावे सुरक्षित व्यवस्था व विधि-व्यवस्था संधारण हेतु जसीडीह स्टेशन परिसर में पर्याप्त संख्या में चिकित्सकों की टीम के साथ दण्डाधिकारी एवं सुरक्षाकर्मियों की तैनाती पूर्व से ही की गई थी।

■ व्यवस्थित रूप से श्रमिकों को सेनेटाइज्ड बस से भेजा गया अपने-अपने गृह जिला की ओर....
श्रमिकों के आने के पश्चात सर्वप्रथम स्वास्थ्य जांच के उपरांत सभी के लिए भोजन की व्यवस्था रेलवे स्टेशन पर ही की गई थी, जिसके उपरांत स्टेशन परिसर से अपने-अपने जिलों के लिए निर्धारित सेनेटाइज्ड बसों में मजदूरों को उनके घरों के लिए रवाना किया गया। वहीं इस दौरान सभी प्रवासी श्रमिकों को भोजन का पैकेट, पानी का बोतल आदि भी उपलब्ध कराया गया।

इस मौके पर उपरोक्त के अलावे रेलवे के वरीय अधिकारी, अनुमंडल पदाधिकारी, देवघर श्री विशाल सागर, प्रशिक्षु आई.ए.एस श्री रवि आनंद, अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी श्री विकास चंद्र श्रीवास्तव, जिला परिवहन पदाधिकारी फिल्ब्यूश बारला, प्रखंड विकास पदाधिकारी, देवघर, अंचलाधिकारी, देवघर सहित विभिन्न अधिकारी, कर्मी आदि उपस्थित थें।

==================
#StayHomeStaySafe
#CleanDeogharGreenDeoghar
==================
#TeamPRD(Deoghar)