9771935367, 06432-275733
You May Contribute at Deoghar District Relief Fund | A/C No. 39238814977,  SBI, Deoghar  | IFS Code : SBIN0000064
Click Here To Know About Corona Live Status In Jharkhand  | Click Here To Download LockDown Guidelines  | Click Here To Download COVID - 19 पांच की शक्ति
Migrant Information
Jharkhand E-pass

सूचना भवन, देवघर, जिला जनसम्पर्क कार्यालय, दिनांक -03/06/2020

सूचना भवन, देवघर
=================
जिला जनसम्पर्क कार्यालय
====================
प्रेस विज्ञप्ति संख्या-981
दिनांक -03/06/2020
====================
■ जिला प्रशासन लगातार प्रयासरत है कि असहाय और गरीब परिवारों की हर संभव मदद की जाए-उपायुक्त....
==================
■ निशुल्क चलंत भोजनालय के माध्यम से असहाय और गरीब परिवारों को अंडा और चावल का भोजन कराया गया....
==================
■ दाल-भात केन्द्र, विशेष दाल-भात केन्द्र, दीदी किचन व कम्यूनिटी किचन के माध्यम से पूरे जिले में निःशुल्क भोजन की व्यवस्थाः उपायुक्त....
==================

उपायुक्त सह जिला दंडाधिकारी श्रीमती नैंसी सहाय के निर्देशानुसार निशुल्क मुख्यमंत्री चलंत भोजनालय के माध्यम से कुष्ट आश्रम काॅलोनी अंतर्गत निवास करने वाले असहाय, गरीब परिवारों को आज पौष्टिक आहार के रूप में अंडा कड़ी व चावल का भोजन कराया गया।

इस दौरान पूर्ण रूप से सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए चलंत भोजनालय के माध्यम से घर-घर जाकर लोगों के बीच भोजन का वितरण किया गया। इस संदर्भ में उपायुक्त श्रीमती नैन्सी सहाय द्वारा जानकारी दी गयी कि जैसा कि हम सभी जानते हैं कि वर्तमान में लॉक डाउन के वजह हम सभी प्रभावित हो रहे हैं, ऐसे में जिला प्रशासन द्वारा लगातार कुछ बेहतर करने का प्रयास किया जा रहा है। इसी क्रम में आज पौष्टिक भोजन के माध्यम से लोगों चेहरे पर मुस्कान लाने हेतु यह छोटी सी पहल की गयी। उन्होंने आगे कहा कि समय-समय पर आगे भी लगातर मुख्य मंत्री निःशुल्क चलंत भोजनालय के माध्यम से इस प्रकार की व्यवस्था की जाएगी और हमारा प्रयास होगा कि इससे अधिक से अधिक लोग लाभान्वित हों।

इसके अलावे उपायुक्त ने कहा कि सभी को भरपेट भोजन उपलब्ध कराना जिला प्रशासन की प्राथमिकता है। हमारा यह प्रयास है कि जिले में एक भी व्यक्ति भूखा न सोये। इस हेतु झारखण्ड स्टेट लाइवलीहुड प्रमोशन सोसाइटी के माध्यम से सभी पंचायतो में निःशुल्क दीदी किचन का भी संचालन किया जा रहा है एवं इन केन्द्रों के माध्यम से प्रतिदिन हजारों अनाथ, बेसहारा, दिव्यांग, वृद्धजन, गरीब एवं राहगीरों को निःशुल्क भोजन उपलब्ध कराया जा रहा है। साथ ही इन सभी केंद्रों पर भोजन वितरण के दौरान स्वच्छता व सोशल डिस्टेंसिंग का सख्ती से अनुपालन किया जा रहा है एवं भोजन वितरण के दौरान लोगों के बीच कम से कम 3 फीट की दूरी निर्धारित कर उन्हें भोजन कराया जा रहा है, ताकि वायरस के संक्रमण को फैलने से रोका जा सके।

■ भोजन के पश्चात मास्क का किया गया वितरण....
इस दौरान कुष्ट आश्रम कॉलोनी में रह रहे परिवारों के बीच लाॅक प्रेरणा समाधान द्वारा मास्क का भी वितरण किया गया।

==================
#UseMaskStaySafe
#CleanDeogharGreenDeoghar
==================
#TeamPRD(Deoghar)


सूचना भवन, देवघर
=================
जिला जनसम्पर्क कार्यालय
====================
प्रेस विज्ञप्ति संख्या-982
दिनांक -03/06/2020
====================
■ देवीपुर प्रखंड अंतर्गत मनरेगा के तहत चल रहे कार्यों का अनुमंडल पदाधिकारी ने किया निरीक्षण ....
==================

आज दिनांक 03.06.2020 को अनुमंडल पदाधिकारी सह अनुमंडल दण्डाधिकारी, देवघर श्री विशाल सागर द्वारा देवीपुर प्रखंड अंतर्गत टटकियो नावाडीह पंचायत में मनरेगा के अंतर्गत बिरसा हरित क्रांति योजना व आम बागवानी कार्यक्रम के चल रहे कार्यों का निरीक्षण कर वस्तुस्थिति से अवगत हुए। इस दौरान उन्होंने कार्य कर रहे श्रमिकों को साफ-सफाई के साथ-साथ शारीरिक दूरी का पालन करते हुए अपने कार्यों का निर्वहन करने का निर्देश दिया। इसके अलावा निरीक्षण के क्रम में अनुमंडल पदाधिकारी ने चल रहे आम बागवानी कार्यक्रम को लेकर को संबंधित अधिकारियों को आवश्यक व उचित दिशा-निर्देश दिया। साथ हीं पूर्व के अनुभवी कृषक जो बागवानी का कार्य पहले भी कर चुके हैं, उनसे बातचीत कर अनुमंडल पदाधिकारी द्वारा उनका अनुभव साझा किया गया। इसके अलावे उन्होंने अनुभवी कृषक मित्रों से भी अपील करते हुए कहा कि दूसरे कृषकों को भी इससे जुड़ी जानकारी अवश्यक साझा करें, ताकि कृषक प्रेरित होकर इस योजना के तहत लाभान्वित हो सके।

निरीक्षण के क्रम में अनुमंडल पदाधिकारी श्री विशाल सागर द्वारा जानकारी दी गयी कि योजना के तहत ग्रामीणों को फलदार वृक्ष लगाने व उसकी देखभाल करने संबंधी रोजगार मिलेगा। इसमें बुजुर्गों और विधवा महिलाओं को प्राथमिकता दी जायेगी, ताकि उनके लिए भी रोजगार उपलब्ध हो सके। इस योजना के जरिये सरकार सड़क किनारे, सरकारी भूमि, व्यक्तिगत या गैर मजरुआ भूमि पर फलदार पौधा लगाने के लिए ग्रामीणों को प्रोत्साहित करेगी। इन पौधों की देखभाल की जिम्मेवारी ग्रामीणों की होगी। अगले पांच साल तक पौधों को सुरक्षित रखने के लिए सहयोग मिलेगा। उन्हें पौधों का पट्टा भी दिया जायेगा, जिससे वे फलों से आमदनी कर सकें। पौधारोपण के करीब तीन साल बाद प्रत्येक परिवार को 50 हजार रुपये की वार्षिक आमदनी होगी। साथ ही फलों की उत्पादकता बढ़ने की स्थिति में फलों को प्रसंस्करण व उसके बाजार उपलब्ध कराने की व्यवस्था होगी। इस योजना के तहत पूरे जिले में एक हजार एकड़ में पौधारोपण के साथ दो लाख पौधा लगाने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है।

इसके अलावा अनुमंडल पदाधिकारी द्वारा ’’पानी रोको पौधा रोपो’’ अभियान की शुरुआत करते हुए इस संदर्भ में लोगों को जानकारी देते हुए कहा गया कि इन योजनाओं के माध्यम से हम अधिक से अधिक लोगों को रोजगार दे सकेंगे और जल एवं मृदा संरक्षण के कार्यों से गांव का पानी गांव में और खेत का पानी खेत में हीं रहेगा। इससे हम जिले के प्रत्येक गांव एवं टोला में वर्षा जल का संरक्षण कर भूजल को रिचार्ज करने में सफल हो सकेंगे। उपरोक्त उद्देश्यों की प्राप्ति हेतु प्रत्येक पंचायत में औसतन 200 हेक्टेयर (500 एकड़) अपलेण्ड पर टीसीबी फिल्ड बंडिंग का कार्य इस वितीय वर्ष में सम्पादित किया जाना है। साथ ही इस अभियान के अंतर्गत प्रत्येक गांव व टोला में कम से कम 5 योजनाएं संचालित किया जाना है। इसके तहत पंचायतवार लक्ष्य की अभिप्राप्ति हेतु इस अभियान का नियमित अनुश्रवण एवं पर्यवेक्षण करने हेतु संबंधित अधिकारियों को आवश्यक व उचित दिशा-निर्देश दिया गया है।

तत्पश्चात उनके द्वारा संबंधित क्षेत्र के पंचायत सचिव एवं रोजगार सेवक को निदेशित किया गया कि उनके क्षेत्र में बाहर से आये प्रवासी श्रमिकों को चिन्हित कर उनका जाॅब कार्ड बनाना सुनिश्चत करें, ताकि उनका निबंधन कर उन्हें मनरेगा के तहत रोजगार मुहैया कराया जा सके। साथ हीं इस बात का भी ध्यान रखा जाय कि कोई भी योेग्य व्यक्ति अथवा प्रवासी श्रमिक न छूटे। सभी को चिन्हित कर उनका जाॅब कार्ड बनाया जाय।

इस दौरान उपरोक्त के अलावे प्रशिक्षु आईएएस श्री रवि आनंद, प्रशिक्षु आईएएस श्री संदीप मीणा, संबंधित प्रखण्ड के प्रखण्ड विकास पदाधिकारी व अंचलाधिकारी आदि उपस्थित थें।

==================
#UseMaskStaySafe
#CleanDeogharGreenDeoghar
==================
#TeamPRD(Deoghar)


सूचना भवन, देवघर
=================
जिला जनसम्पर्क कार्यालय
====================
प्रेस विज्ञप्ति संख्या-985
दिनांक -03/06/2020
====================
■ केरल के कन्नूर से आये #728 प्रवासी श्रमिकों का जसीडीह रेलवे स्टेशन पर किया स्वागत....
==================
■ फूड पैकेट व पेयजल की व्यवस्था स्टेशन परिसर में हीं प्रवासी श्रमिकों हेतु.....
==================
■ क्वारंटाइन नियमों के साथ चिकित्सकों की सलाह का अक्षरशः करें पालनः- उपायुक्त....
=================
■ थर्मल स्कैनिंग के पश्चात सेनेटाइज्ड बस से श्रमिकों को भेजा गया अपने गृह जिला की ओर....
==================

केंद्र और राज्य सरकार के पहल के पश्चात लॉक डाउन के वजह से केरल के कन्नूर में फंसे झारखण्ड के विभिन्न जिलों के प्रवासी श्रमिकों को आज स्पेशल ट्रैन के माध्यम से जसीडीह स्टेशन पहुंचे। इस दौरान वरीय अधिकारियों द्वारा सभी श्रमिकों व उनके परिजनों का अभिनंदन किया गया एवं उनके सकुशल घर वापसी हेतु ढेरों शुभकामनाएं दी गयी। तत्पश्चात बाहर से यहां आने वाले सभी मजदूरों को सर्वप्रथम ट्रैन से सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए उतारा गया एवं स्टेशन परिसर में स्वास्थ्य परीक्षण हेतु बने काउंटर में उनका थर्मल स्कैनिंग व स्वास्थ्य जांच संबंधी अन्य सभी प्रक्रिया पूरी की गई।

ज्ञात हो कि कनौड से कुल 728 श्रमिकों में देवघर के 171, दुमका के 93, गिरिडीह के 101, गोड्डा के 61, जामताड़ा के 67, कोडरमा के 18, पाकुड़ के 45, साहेबगंज के 172 प्रवासी श्रमिकों का स्वागत जसीडीह स्टेशन पर किया गया।

इस दौरान आने वाले सभी मजदूरों के बीच नास्ता, पानी का वितरण किया गया। इस दौरान सभी प्रवासी श्रमिकों को 14 दिनों तक क्वारंटाइन का अक्षरशः पालन करते हुए मास्क का उपयोग व सोशल डिस्टेंसिंग का अनुपालन पूर्ण रूप से सुनिश्चित करने का निर्देश दिया गया।

■ सुरक्षा के दृष्टिकोण से रेलवे स्टेशन पर एहतियातन उठाये गए हैं सभी कदम....
श्रमिकों के आगमन को लेकर जसीडीह रेलवे स्टेशन परिसर को पूर्ण रूप से सैनेटाइजड किया गया है एवं सोशल डिस्टेंसिंग के पालन हेतु वैरिकेडिंग कर जगह-जगह पर गोल घेरा का निर्माण कराया गया है। इसके अलावे सुरक्षित व्यवस्था व विधि-व्यवस्था संधारण हेतु जसीडीह स्टेशन परिसर में पर्याप्त संख्या में चिकित्सकों की टीम के साथ दण्डाधिकारी एवं सुरक्षाकर्मियों की तैनात पूर्व से ही कि गई थी।

■ व्यवस्थित रूप से श्रमिकों को सेनेटाइज्ड बस से भेजा गया अपने-अपने गृह जिला की ओर....
श्रमिकों के आने के पश्चात सर्वप्रथम स्वास्थ्य जांच के उपरांत सभी के लिए फूड पैकेट व पेयजल की व्यवस्था रेलवे स्टेशन पर ही कि गई थी। जिसके उपरांत स्टेशन परिसर से अपने-अपने जिलों के लिए निर्धारित सेनेटाइज्ड बसों में बैठाकर मजदूरों को घर के लिए रवाना किया गया।

■ देवघर के आये 171 श्रमिकों को किया जायेगा क्वारंटाइनः- उपायुक्त....
बाहर से यहां आने वाले सभी मजदूरों एवं यहां के लोगों के स्वास्थ्य सुरक्षा के दृष्टिकोण से जिला प्रशासन द्वारा सभी एहतियाती उपाय अपनाये गए हैं। इसलिए किसी भी व्यक्ति को घबराने या पैनिक होने की कोई आवश्यकता नहीं है। सुरक्षा के दृष्टिकोण से आने वाले सभी मजदूरों को उनके गंतव्य स्थान तक भेजने हेतु प्रयोग किये जाने वाले बसों को पूर्णतः सेनेटाइज्ड कर सोशल डिस्टेंसिंग का ध्यान रखा गया है।

इस मौके पर उपरोक्त के अलावे अनुमंडल पदाधिकारी, मधुपुर श्री योगेंद्र प्रसाद, जिला खनन पदाधिकारी श्री राजेश कुमार, रेलवे के अधिकारी, मानस कुमार मिश्रा, प्रखंड विकास पदाधिकारी, अंचलाधिकारी, सहित विभिन्न अधिकारी, कर्मी आदि उपस्थित थें।

==================
#UseMaskStaySafe
#CleanDeogharGreenDeoghar
==================
#TeamPRD(Deoghar)