9771935367, 06432-275733
You May Contribute at Deoghar District Relief Fund | A/C No. 39238814977,  SBI, Deoghar  | IFS Code : SBIN0000064
Click Here To Know About Corona Live Status In Jharkhand  | Click Here To Download LockDown Guidelines  | Click Here To Download COVID - 19 पांच की शक्ति
Migrant Information
Jharkhand E-pass

सूचना भवन, देवघर, जिला जनसम्पर्क कार्यालय, दिनांक -01/06/2020

सूचना भवन, देवघर
=================
जिला जनसम्पर्क कार्यालय
====================
प्रेस विज्ञप्ति संख्या-969
दिनांक -01/05/2020
====================
■ वापी से 1750, तिरूर से 1442 व गोवा के कारमली से 1638 प्रवासी श्रमिकों का जसीडीह रेलवे स्टेशन पर किया स्वागत....
==================
■ फूड पैकेट व पेयजल के साथ इम्यूनिटी बुस्टर के रूप में #ORS पैकेट की व्यवस्था स्टेशन परिसर में हीं प्रवासी श्रमिकों हेतु.....
==================
■ क्वारंटाइन नियमों के साथ चिकित्सकों की सलाह का अक्षरशः करें पालनः- उपायुक्त....
==================
■ थर्मल स्कैनिंग के पश्चात सेनेटाइज्ड बस से श्रमिकों को भेजा गया अपने गृह जिला की ओर....
==================

केंद्र और राज्य सरकार के पहल के पश्चात लॉक डाउन के वजह से वापी, तिरूर व गोवा के कारमली में फंसे झारखण्ड के विभिन्न जिलों के प्रवासी श्रमिकों को आज स्पेशल ट्रैन के माध्यम से जसीडीह स्टेशन पहुंचे। इस दौरान वरीय अधिकारियों द्वारा सभी श्रमिकों व उनके परिजनों का अभिनंदन किया गया एवं उनके सकुशल घर वापसी हेतु ढेरों शुभकामनाएं दी गयी। तत्पश्चात बाहर से यहां आने वाले सभी मजदूरों को सर्वप्रथम ट्रैन से सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए उतारा गया एवं स्टेशन परिसर में स्वास्थ्य परीक्षण हेतु बने काउंटर में उनका थर्मल स्कैनिंग व स्वास्थ्य जांच संबंधी अन्य सभी प्रक्रिया पूरी की गई।

ज्ञात हो कि वापी से कुल 1750 श्रमिकों में पलामू के 130, कोडरमा के 8, गढ़वा के 97, दुमका के 104, गिरिडीह के 74, धनबाद के 58, लातेहार के 15, पाकुड़ के 2, सिमडेगा के 4, हजारीबाग के 20, गोड्डा के 315, प0 सिंहभूम के 111, ईस्ट सिंहभूम के 7, गुमला के 9, सरायकेला खड़सवा के 98, साहेबगंज के 95, खूंटी के 5, रांची के 351, जामताड़ा के 58, बोकारो के 8, चतरा के 106, देवघर के 75 प्रवासी श्रमिकों को स्पेशल ट्रेन से जसीडीह स्टेशन लाया गया। इसके अलावे तिरूर से कुल 1442 श्रमिकों में देवघर के 293, गिरिडीह के 235, लोहरदगा के 167, धनबाद के 146, जामताड़ा के 107, साहेबगंज के 75, सिमडेगा के 71, लातेहार के 68, दुमका के 54, गोड्डा के 33, गढ़वा के 32, हजारीबाग के 24, पाकुड़ के 23, बोकारो के 19, प0 सिंहभूम के 17, गुमला के 16, चतरा के 11, पलामू के 10, सरायकेला के 9, रांची के 8, कोडरमा के 7, ईस्ट सिंहभूम के 3, खूंटी के 1, अन्य 13 प्रवासी श्रमिकों का आगमन विशेष ट्रेन के माध्यम से जसीडीह स्टेशन पर हुआ। साथ हीं गोवा के कारमली से कुल 1638 प्रवासी श्रमिकों में गुमला के 457, सिमडेगा के 438, साहेबगंज के 108, बोकारो के 84, गोड्डा के 66, पाकुड़ के 55, पलामू के 54, गढ़वा के 52, रांची के 50, खूंटी के 38, गिरिडीह के 34, धनबाद के 33, हजारीबाग के 32, जामताड़ा के 19, लातेहार के 19, चतरा के 18, देवघर के 17, कोडरमा के 17, प0 सिहंभूम के 15, ईस्ट सिंहभूम के 11, दुमका के 10, लोहरदगा के 3, सरायकेला के 3, रामगढ़ के 1, अन्य 4 प्रवासी श्रमिकों का स्वागत जसीडीह स्टेशन पर किया गया।

इस दौरान आने वाले सभी मजदूरों के बीच नास्ता, पानी व ओ0आर0एस के पैकेट का वितरण करते हुए सभी को 14 दिनों तक क्वारंटाइन का अक्षरशः पालन करने का निर्देश दिया गया। इसके अलावे उपायुक्त ने आगे कहा कि मास्क का उपयोग कर व सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कर हीं हम इस कोरोना नामक महामारी को हराकर इस पर जीत हासिल कर सकते है। इसलिए आवश्यक है कि हम सभी सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए सरकार द्वारा जारी गाइडलाइन एवं चिकित्सकों द्वारा दिए गए चिकित्सकीय परामर्श का अक्षरशः पालन करें एवं स्वस्थ व सुरक्षित रहें।

■ सुरक्षा के दृष्टिकोण से रेलवे स्टेशन पर एहतियातन उठाये गए हैं सभी कदम....
श्रमिकों के आगमन को लेकर जसीडीह रेलवे स्टेशन परिसर को पूर्ण रूप से सैनेटाइजड किया गया है एवं सोशल डिस्टेंसिंग के पालन हेतु वैरिकेडिंग कर जगह-जगह पर गोल घेरा का निर्माण कराया गया है। इसके अलावे सुरक्षित व्यवस्था व विधि-व्यवस्था संधारण हेतु जसीडीह स्टेशन परिसर में पर्याप्त संख्या में चिकित्सकों की टीम के साथ दण्डाधिकारी एवं सुरक्षाकर्मियों की तैनात पूर्व से ही कि गई थी।

■ व्यवस्थित रूप से श्रमिकों को सेनेटाइज्ड बस से भेजा गया अपने-अपने गृह जिला की ओर....
श्रमिकों के आने के पश्चात सर्वप्रथम स्वास्थ्य जांच के उपरांत सभी के लिए फूड पैकेट व पेयजल की व्यवस्था रेलवे स्टेशन पर ही कि गई थी। जिसके उपरांत स्टेशन परिसर से अपने-अपने जिलों के लिए निर्धारित सेनेटाइज्ड बसों में बैठाकर मजदूरों को घर के लिए रवाना किया गया। इससे पहले सभी प्रवासी श्रमिकों को मकेएस कंस्ट्रक्शन द्वारा भोजन का पैकेट, पानी का बोतल भी उपलब्ध कराने में जिला प्रशासन का सहयोग किया गया।

■ देवघर के आये 385 श्रमिकों को किया जायेगा क्वारंटाइनः- उपायुक्त.....
बाहर से यहां आने वाले सभी मजदूरों एवं यहां के लोगों के स्वास्थ्य सुरक्षा के दृष्टिकोण से जिला प्रशासन द्वारा सभी एहतियाती उपाय अपनाये गए हैं। इसलिए किसी भी व्यक्ति को घबराने या पैनिक होने की कोई आवश्यकता नहीं है। सुरक्षा के दृष्टिकोण से आने वाले सभी मजदूरों को उनके गंतव्य स्थान तक भेजने हेतु प्रयोग किये जाने वाले बसों को पूर्णतः सेनेटाइज्ड कर सोशल डिस्टेंसिंग का ध्यान रखा गया है।

■ कोविड-19 से बचाव के इस जंग में बेहतर टीम भावना के साथ कार्य करने हेतु सभी अधिकारियों व कर्मियों का धन्यवाद... उपायुक्त श्रीमती नैंसी सहाय के द्वारा देवघर जिला के सभी अधिकारियों, चिकित्सक, स्वास्थ्य कर्मियों, सुरक्षाकर्मियों, सफाई कर्मियों, व अन्य सभी कर्मियों के प्रति आभार प्रकट करते हुए कहा गया कि कोविड-19 से बचाव के इस जंग में जिस प्रकार सभी ने बेहतर टीम भावना के साथ कार्य किया है, वह वाकई काबिले तारीफ है। सभी के सहयोग से हीं हम कोरोना नामक इस महामारी का डटकर मुकाबला कर पा रहे हैं। संकट की इस घड़ी में निज हित से परे हटकर सभी बेहतर कार्य कर रहे हैं। आशा है कि इसी प्रकार आप सभी के द्वारा सेवा भाव व टीम भावना के साथ किये गए कार्य व परस्पर सहयोग से हम जल्द हीं कोरोना नामक महामारी को हरा कर इस पर जीत हासिल कर पायेंगे।

इस मौके पर उपरोक्त के अलावे अनुमंडल पदाधिकारी, श्री विशाल सागर, प्रशिक्षु आई.ए.एस श्री रवि आनंद प्रशिक्षु आई.ए. .एस श्री संदीप मीना, जिला परिवहन पदाधिकारी श्री फिल्ब्यूश बारला, रेलवे के अधिकारी, मानस कुमार मिश्रा, जिला जनसंपर्क पदाधिकारी श्री रवि कुमार जिला खनन पदाधिकारी श्री राजेश कुमार जिला योजना पदाधिकारी, प्रखंड विकास पदाधिकारी, अंचलाधिकारी, सहित विभिन्न अधिकारी, कर्मी आदि उपस्थित थें।

==================
#UseMaskStaySafe
#CleanDeogharGreenDeoghar
==================
#TeamPRD(Deoghar)


सूचना भवन, देवघर
=================
जिला जनसम्पर्क कार्यालय
====================
प्रेस विज्ञप्ति संख्या-973
दिनांक -01/06/2020
====================
■ आज से ’’पानी रोको-पौधा रोपो अभियान की शुरूआतः उपायुक्त.....
==================
■ कम होते जल स्तर के प्रति हम सभी को सजग व जागरूक होने की आवश्यकताः उपायुक्त....
==================

उपायुक्त सह जिला दण्डाधिकारी श्रीमती नैन्सी सहाय द्वारा जानकारी दी गयी है कि कोरोना महामारी के कारण उत्पन्न समाजिक दूरी से निपटने तथा ग्रामीण अर्थव्यवस्था को पटरी पर लाने के लिए मनरेगा योजना के तहत तीन महत्वपूर्ण एवं महत्वाकांक्षी योजना यथा-नीलाम्बर-पीताम्बर जल समृद्धि योजना, बिरसा हरित ग्राम योजना एवं वीर शहिद पोटो हो खेल विकास योजना की शुरूआत की गयी है।

इसी कड़ी में आज दिनांक 01.06.2020 को उप विकास आयुक्त श्री शैलेन्द्र कुमार लाला द्वारा ’’पानी रोको पौधा रोपो’’ की शुरूआत सोनेरायठाढ़ी व सारवां प्रखण्ड से की गयी। इस दौरान उप विकास आयुक्त द्वारा जानकारी दी गयी कि इन योजनाओं में से प्रतिदिन पंचायतों में कम से कम 200 से 250 मानव दिवस के सृजन का लक्ष्य रखा गया है, जिससे जहां एक ओर हम बड़ी आबादी को रोजगार दे सकेंगे वहीं दूसरी ओर जल एवं मृदा संरक्षण कार्यों से ’’गांव का पानी गांव में एवं खेत का पानी खेत में जिले के प्रत्येक गांव एवं टोला में वर्षा जल का संरक्षण कर भूजल को रिचार्ज करने में सफल हो सकेंगे। उपरोक्त उद्देश्यों की प्राप्ति हेतु प्रत्येक पंचायत में औसतन 200 हेक्टेयर (500 एकड़) अपलेण्ड पर टीसीबी फिल्ड बंडिंग का कार्य इस वितीय वर्ष में सम्पादित किया जाना है। इस अभियान के अंतर्गत प्रत्येक गांव में टोला में कम से कम 5 योजनाएं संचालित किया जाना है।

इसके अलावे आज दिनांक 01.06.2020 से प्रारंभ होने वाले ’’पानी रोको पौधा रोपो’’ अभियान को सफल बनाने हेतु अपने सभी प्रखण्ड अंतर्गत पंचायतों में भी योजनाओं को शुभारंभ किया गया है। साथ ही पंचायतवार लक्ष्य की अभिप्राप्ति हेतु इस अभियान का नियमित अनुश्रवण एवं पर्यवेक्षण करने हेतु संबंधित अधिकारियों को आवश्यक व उचित दिशा-निर्देश दिया गया है। इसके अलावे डीआरडीए निदेशक श्रीमती नयनतारा केरकट्टा के द्वारा पानी रोको पौधा रोपो अभियान की शुरूआत की गयी। साथ ही जिला पंचायती राज पदाधिकारी द्वारा श्री रणबीर सिंह द्वारा करौं प्रखंड अंतर्गत बिरसा हरित ग्राम योजना की शुरुआत की गई है।

■ बिरसा हरित ग्राम योजना के तहत चल रहे कार्यों का उप विकास आयुक्त ने किया निरीक्षण.....
आज दिनांक 01.06.2020 को उप विकास आयुक्त श्री शैलेन्द्र कुमार लाल द्वारा सोनेरायठाढ़ी प्रखंड के धनवे ग्राम में बिरसा हरित क्रांति योजना के तहत चल रहे कार्यों का निरीक्षण कर वास्तुस्थिति से अवगत हुए। इस दौरान उन्होंने कार्य कर रहे श्रमिकों को साफ-सफाई के साथ-साथ शारीरिक दूरी का पालन करते हुए अपने कार्यों का निर्वहन करने का निर्देश दिया। इसके अलावा निरीक्षण के क्रम में उन्होंने चल रहे आम बागवानी कार्यक्रम को लेकर संबंधित अधिकारियों को संबंधित अधिकारियों को आवश्यक व उचित दिशा-निर्देश दिया। इसके अलावे उन्होंने अनुभवी कृषक मित्रों से भी अपील करते हुए कहा कि दूसरे कृषकों को भी इससे जुड़ी जानकारी अवश्यक साझा करें, ताकि कृषक प्रेरित होकर इस योजना के तहत लाभान्वित हो सके।

■ बिरसा हरित ग्राम योजना के तहत एक हजार एकड़ में पौधारोपन करने का लक्ष्य निर्धारितः-उप विकास आयुक्त.....
निरीक्षण के क्रम में उप विकास आयुक्त श्री शैलेन्द्र कुमार लाल द्वारा जानकारी दी गयी कि योजना के तहत ग्रामीणों को फलदार वृक्ष लगाने व उसकी देखभाल करने संबंधी रोजगार मिलेगा। इसमें बुजुर्गों और विधवा महिलाओं को प्राथमिकता दी जायेगी, ताकि उनके लिए भी रोजगार उपलब्ध हो सके। इस योजना के जरिये सरकार सड़क किनारे, सरकारी भूमि, व्यक्तिगत या गैर मजरुआ भूमि पर फलदार पौधा लगाने के लिए ग्रामीणों को प्रोत्साहित करेगी। इन पौधों की देखभाल की जिम्मेवारी ग्रामीणों की होगी। अगले पांच साल तक पौधों को सुरक्षित रखने के लिए सहयोग मिलेगा। उन्हें पौधों का पट्टा भी दिया जायेगा, जिससे वे फलों से आमदनी कर सकें। पौधारोपण के करीब तीन साल बाद प्रत्येक परिवार को 50 हजार रुपये की वार्षिक आमदनी होगी। साथ ही फलों की उत्पादकता बढ़ने की स्थिति में फलों को प्रसंस्करण व उसके बाजार उपलब्ध कराने की व्यवस्था होगी। इस योजना के तहत पूरे जिले में एक हजार एकड़ में पौधारोपण के साथ दो लाख पौधा लगाने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है।

==================
#UseMaskStaySafe
#CleanDeogharGreenDeoghar
==================
#TeamPRD(Deoghar)


सूचना भवन, देवघर
=================
जिला जनसम्पर्क कार्यालय
====================
प्रेस विज्ञप्ति संख्या-975
दिनांक -01/06/2020
====================
■ सारवां प्रखंड के दोनों गांव कंटेन्मेंट जोन से मुक्त:- अनुमंडल पदाधिकारी....
==================

अनुमण्डल पदाधिकारी-सह-अनुमण्डल दण्डाधिकारी, देवघर श्री विशाल सागर द्वारा जानकारी दी गयी है कि देवघर अनुमण्डल अंतर्गत ग्राम-बाराकुल पंचायत-नारंगी प्रखंड-सारवा के साथ ग्राम माँझीटुकुर पंचायत-डकाय, प्रखंड-सारवा में कोरोना वायरस (COVID-19) से ग्रसित एक व्यक्ति पाये जाने के कारण दं0प्र0सं0 की धारा-133 एवं I.P.C. की धारा-188, 269, 270, 271 एवं अन्य सुसंगत धाराओं के तहत Containment Zone के रूप में चिन्हित करते हुए कफ्र्यू आदेश दिनांक-03.05.2020 के प्रातः 06ः00 बजे से अगले आदेश तक लगाया गया था।

उक्त कोरोना वायरस (COVID-19) से ग्रसित व्यक्ति का जांच प्रतिवेदन लगातार निगेटिव आने एवं संबंधित व्यक्ति को किसी प्रकार कोई लक्षण नहीं पाये जाने के कारण संबंधित व्यक्ति को माॅ ललिता हाॅस्टिल, कोरन्टाईन सेंटर से मुक्त करते हुए अपने घर सुरक्षित भेज दिया गया है। साथ ही Containment Zone की Protocol अवधि भी पूर्ण हो गई है।

ऐसे में ग्राम-भुरकुण्डा, पंचायत-लखोरिया, प्रखंड-सारवां को EPI Center से संबधित चिन्हित किये गये Containment Zone से मुक्त किया जाता है।

==================
#UseMaskStaySafe
#CleanDeogharGreenDeoghar
==================
#TeamPRD(Deoghar)


सूचना भवन, देवघर
=================
जिला जनसम्पर्क कार्यालय
====================
प्रेस विज्ञप्ति संख्या-974
दिनांक -01/06/2020
====================
■ प्रवासी श्रमिकों की सुरक्षा व सुविधा के इंतजाम को रखे दुरूस्तः उपायुक्त....
==================
■ बाजार एप के प्रति लोगों को करें जागरूक करते हुए करें इसका व्यापक प्रसार-प्रचारः उपायुक्त....
==================
■ क्वारंटाइन सेंटर का समय-समय पर निरीक्षण करते हुए सुविधाओं को रखे सुदृढ़ः उपायुक्त....
==================

उपायुक्त सह जिला दण्डाधिकारी श्रीमती नैन्सी सहाय की अध्यक्षता में आज समाहरणालय सभागार में प्रवासी श्रमिकों को समाज की मुख्य धारा से जोड़ने व रोजगार मुहैया कराने संबंधी बैठक का आयोजन किया गया।

बैठक के दौरान उपायुक्त द्वारा जानकारी दी गयी कि देवघर जिला अंतर्गत आये सभी प्रवासी श्रमिकों को हर संभव सुविधा मुहैया कराने हेतु जिला प्रशासन द्वारा प्रयास किया जा रहा है एवं उन्हें खाद्य सामग्री आपूर्ति संबंधी कोई समस्या उत्पन्न न हो, इसके लिए सभी प्रखण्ड विकास पदाधिकारी को दो-दो लाख रूपये की राशि उपलब्ध करायी गयी है। इस राशि का उपयोग सभी प्रखण्ड विकास पदाधिकारी अपने-अपने क्षेत्र में आयें प्रवासी श्रमिकों को राशन किट उपलब्ध कराने हेतु करेंगे। इसके अलावा उपायुक्त द्वारा जिला आपूर्ति पदाधिकारी को निदेशित किया गया कि उनके द्वारा सभी प्रखण्ड विकास पदाधिकारी के साथ समन्वय स्थापित करते हुए देवघर जिला अंतर्गत आने वाले सभी प्रवासी श्रमिकों की सूची अविलंब तैयार कराते हुए प्राथमिकता के आधार पर सभी को राशन कार्ड उपलब्ध कराया जाय। साथ ही उपायुक्त ने सभी प्रखण्ड विकास पदाधिकारी को निदेशित किया कि उनके द्वारा प्रवासी श्रमिकों को राशन किट उपलब्ध कराने हेतु खाद्य समाग्रियों का क्रय जिला स्तर पर सामग्रियों के निर्धारित मूल्य के अनुसार हीं की जाय।

इसके अलावा उपायुक्त द्वारा निदेशित किया गया कि प्रवासी श्रमिक दाल-भात केन्द्र एवं खोले गए अन्य निःशुल्क दाल-भात केन्द्र का आगामी 30 जून तक संचालन किया जाय। तत्पश्चात उपायुक्त द्वारा आत्मनिर्भर भारत की जानकारी देते हुए सभी प्रखण्ड विकास पदाधिकारी को निदेशित किया गया कि इस हेतु गृह मंत्रालय, भारत सरकार द्वारा प्राप्त निर्देशों के आलोक में योग्य लाभुकों की सूची तैयार करा लें, ताकि सभी जरूरतमंदों को आवश्यकतानुसार सहायता प्रदान की जा सके। उन्होंने आगे कहा कि इस हेतु बाजार एप्प के माध्यम से यहां आयें प्रवासी श्रमिकों का निबंधन किया जाना है, जिसके तहत प्रवासी श्रमिकों के आधार नंबर के माध्यम से बाजार एप्प में उन्हें निबंधित किया जायेगा। निबंधन के उपरांत सभी को पीडीएस डीलर केे माध्यम से अनाज उपलब्ध कराया जायेगा।

तत्पश्चात उपायुक्त द्वारा क्वारंटाईन सेंटरों में मुहैया कराये जा रहे विभिन्न सुविधाओं आदि के बारे में समीक्षा करते हुए संबंधित नोडल पदाधिकारी को निदेशित किया गया कि सभी संबंधित अधिकारी क्वारंटाइन सेंटरों का समय-समय पर निरीक्षण करते रहे एवं वहां रहने वाले लोगों को मिल रहे मुलभूत सुविधाओं का जायजा लेते रहे एवं इस बात का विशेष ध्यान रखे कि क्वारंटाइन सेंटर में रहने वाले लोगों को किसी प्रकार की कोई समस्या न हो। साथ ही क्वारंटाइन सेंटर में साफ-सफाई का विशेष ध्यान रखते हुए वहां रहने वाले लोगों को कोरोना संक्रमण से लड़ने हेतु प्रेरित करें।

उपायुक्त द्वारा आगेे सभी प्रखण्ड विकास पदाधिकारी को निदेशित किया गया कि क्वारंटाइन सेंटरों के लिए किसी भी तरह की कोई सामग्री की आवश्यकता हो तो अविलंब इसकी सूचना जिला के संबंधित अधिकारियों को दें। इसके अलावा संबंधित प्रखण्ड विकास पदाधिकारी द्वारा समय समय पर संबंधित थाना के साथ समन्वय स्थापित करते हुए रात्रि में क्वारंटाइन सेंटरों का भ्रमण कर वहां के वस्तुस्थिति से अवगत होते रहंे। इसके अलावा उपायुक्त द्वारा कहा गया कि देवघर जिला अंतर्गत आये प्रवासी श्रमिकों को रोजगार मुहैया कराने हेतु जिला प्रशासन द्वारा हर संभव प्रयास किया जा रहा है एवं इस हेतु यहां आये सभी प्रवासी श्रमिकों का निबंधन कराने से लेेकर मनरेगा के तहत 250 कार्य दिवस का कार्य उपलब्ध कराने का प्रयास किया जा रहा है। इसके लिए बिरसा हरित ग्राम योजना के तहत 726 योजनाओं का चयन किया गया है।

साथ हीं उपायुक्त द्वारा स्वामी विवेकानंद पेंशन योजना की समीक्षा करते हुए सभी प्रखण्ड विकास पदाधिकारी को निदेश दिया गया कि वैसे दिव्यांग जिनका आवेदन स्वीकृत हो गया था परंतु किसी कारणवश संबंधित डाटा पोर्टल पर अपलोड नहीं हो पाया था, उन सभी का जिला समाज कल्याण कार्यालय से डाटा प्राप्त कर पोर्टल पर अपलोड कराना सुनिश्चित करें।

इस दौरान उप विकास आयुक्त श्री शैलेन्द्र कुमार लाल द्वारा सभी प्रखण्ड विकास पदाधिकारी को निदेशित किया गया कि मनरेगा व प्रधानमंत्री आवास योजना के सारे कार्यों का लगातार निरीक्षण करते रहे एवं अपने अपने क्षेत्रों का भ्रमण कर वहां रहने वाले लोगों से सोशल डिस्टेंसिंग व मास्क का उपयोग करने हेतु उन्हें प्रेरित करें।

बैठक में उपरोक्त के अलावे उप विकास आयुक्त श्री शैलेन्द्र कुमार लाल, अनुमंडल पदाधिकारी, देवघर श्री विशाल सागर, अनुमंडल पदाधिकारी, मधुपुर श्री योगेन्द्र प्रसाद, प्रशिक्षु आईएएस श्री रवि आनंद, संदीप कुमार मीना, डीआरडीए निदेशक श्री नयनतारा केरकेट्टा, जिला आपूर्ति पदाधिकारी श्री विशालदीप खलखो, आपद प्रबंधन पदाधिकारी श्री राजीव कुमार, विभिन्न प्रखंडो के प्रखण्ड विकास पदाधिकारी, परियोजना पदाधिकारी, ई-डिस्ट्रीक मैनेजर व संबंधित अधिकारी आदि उपस्थित थें।

==================
#UseMaskStaySafe
#CleanDeogharGreenDeoghar
==================
#TeamPRD(Deoghar)


सूचना भवन, देवघर
=================
जिला जनसम्पर्क कार्यालय
====================
प्रेस विज्ञप्ति संख्या-976
दिनांक -01/06/2020
====================
■ एर्नाकुलम से आये #1549 प्रवासी श्रमिकों का जसीडीह रेलवे स्टेशन पर किया स्वागत....
==================
■ क्वारंटाइन नियमों के साथ चिकित्सकों की सलाह का अक्षरशः करें पालनः- उपायुक्त....
==================
■ थर्मल स्कैनिंग के पश्चात सेनेटाइज्ड बस से श्रमिकों को भेजा गया अपने गृह जिला की ओर....
==================
■ बाहर से आये श्रमिकों व उनके परिजनों के लिए स्टेशन परिसर में ही फूड पैकेट व पेयजल की थी व्यवस्था.....
==================

केंद्र और राज्य सरकार के पहल के पश्चात लॉक डाउन के वजह से एर्नाकुलम में फंसे झारखण्ड के विभिन्न जिलों के प्रवासी श्रमिकों को आज स्पेशल ट्रैन के माध्यम से जसीडीह स्टेशन पहुंचे। इस दौरान वरीय अधिकारियों द्वारा सभी श्रमिकों व उनके परिजनों का अभिनंदन किया गया एवं उनके सकुशल घर वापसी हेतु ढेरों शुभकामनाएं दी गयी। तत्पश्चात बाहर से यहां आने वाले सभी मजदूरों को सर्वप्रथम ट्रैन से सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए उतारा गया एवं स्टेशन परिसर में स्वास्थ्य परीक्षण हेतु बने काउंटर में उनका थर्मल स्कैनिंग व स्वास्थ्य जांच संबंधी अन्य सभी प्रक्रिया पूरी की गई।

ज्ञात हो कि कुल 1549 में से देवघर-353, लातेहार 324, लोहरदगा-110, रांची-106, गरीडीह-103, गढ़वा-80, सिमडेगा-73, पलामू-56, धनबाद-43, गुमला-38, दुमका-35, साहेबगंज-31, पाकुड़-27, हजारीबाग-26, कोडरमा-23, जामताड़ा-19, बोकारो-17, पूर्वी सिंहभूम-15, गोड्डा-11, चतरा-09, सरायकेला-08, खूंटी-07, पश्चिमी सिंहभूम-06, रामगढ़-02, अन्य-27 प्रवासी श्रमिकों को स्पेशल ट्रेन से जसीडीह स्टेशन लाया गया।

इस दौरान आने वाले सभी मजदूरों के बीच नास्ता, पानी का वितरण करते हुए सभी को 14 दिनों तक क्वारंटाइन का अक्षरशः पालन करने का निर्देश दिया गया। इसके अलावे उपायुक्त ने आगे कहा कि मास्क का उपयोग कर व सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कर हीं हम इस कोरोना नामक महामारी को हराकर इस पर जीत हासिल कर सकते है। इसलिए आवश्यक है कि हम सभी सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए सरकार द्वारा जारी गाइडलाइन एवं चिकित्सकों द्वारा दिए गए चिकित्सकीय परामर्श का अक्षरशः पालन करें एवं स्वस्थ व सुरक्षित रहें।

■ सुरक्षा के दृष्टिकोण से रेलवे स्टेशन पर एहतियातन उठाये गए हैं सभी कदम....
श्रमिकों के आगमन को लेकर जसीडीह रेलवे स्टेशन परिसर को पूर्ण रूप से सैनेटाइजड किया गया है एवं सोशल डिस्टेंसिंग के पालन हेतु वैरिकेडिंग कर जगह-जगह पर गोल घेरा का निर्माण कराया गया है। इसके अलावे सुरक्षित व्यवस्था व विधि-व्यवस्था संधारण हेतु जसीडीह स्टेशन परिसर में पर्याप्त संख्या में चिकित्सकों की टीम के साथ दण्डाधिकारी एवं सुरक्षाकर्मियों की तैनात पूर्व से ही कि गई थी।

■ व्यवस्थित रूप से श्रमिकों को सेनेटाइज्ड बस से भेजा गया अपने-अपने गृह जिला की ओर....
श्रमिकों के आने के पश्चात सर्वप्रथम स्वास्थ्य जांच के उपरांत सभी के लिए फूड पैकेट व पेयजल की व्यवस्था रेलवे स्टेशन पर ही कि गई थी। जिसके उपरांत स्टेशन परिसर से अपने-अपने जिलों के लिए निर्धारित सेनेटाइज्ड बसों में बैठाकर मजदूरों को घर के लिए रवाना किया गया। इससे पहले सभी प्रवासी श्रमिकों को मकेएस कंस्ट्रक्शन द्वारा भोजन का पैकेट, पानी का बोतल भी उपलब्ध कराने में जिला प्रशासन का सहयोग किया गया। इस मौके पर उपरोक्त के अलावे अनुमंडल पदाधिकारी, श्री विशाल सागर, प्रशिक्षु आई.ए.एस श्री रवि आनंद, प्रशिक्षु आई.ए.एस श्री संदीप मीना, सीसीआर डीएसपी श्री मधुप कच्छप, रेलवे के अधिकारी, मानस कुमार मिश्रा, जिला खनन पदाधिकारी श्री राजेश कुमार, प्रखंड विकास पदाधिकारी, अंचलाधिकारी, सहित विभिन्न अधिकारी, कर्मी आदि उपस्थित थें।

==================
#StayHomeStaySafe
#CleanDeogharGreenDeoghar
==================
#TeamPRD(Deoghar)